उत्तराखंड विधवा महिला को हरियाणा में बेचने की थी तैयारी.. हिरासत में पति पत्नी

पहाड़ की गरीब, असहाय एवं विधवा महिलाओं को चंद पैसों के लिए बेचा जा रहा है और उनकी जिंदगियों के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है।

उत्तराखंड अब हैवानियत से भरे लोगों का अड्डा बन चुका है। लोगों के मन में जहर घुल चुका है और पैसे को लेकर लोग अपने सभी हदों को भूल रहे हैं।यहां लोग सभी हदों को पार कर इंसानियत को शर्मसार कर रहे हैं। अब यह जहर मैदानों के साथ साथ ही पहाड़ों पर भी धीरे-धीरे जा रहा है जो कि बेहद चिंताजनक है। इस बात पर यकीन करना मुश्किल है मगर यह सच है कि उत्तराखंड में ह्यूमन ट्रैफिकिंग के केस इन दिनों काफी बढ़ गए हैं जिस पर सख्त एक्शन लिया जाना चाहिए। पहाड़ की गरीब, असहाय एवं विधवा महिलाओं को चंद पैसों के लिए बेचा जा रहा है और उनकी जिंदगियों के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है।ह्यूमन ट्रैफिकिंग का शिकार अक्सर वे महिलाएं होती हैं जिनके पास आय का कोई स्रोत नहीं होता। वे असहाय होती हैं और आर्थिक रूप से भी कमजोर होती हैं। उन्हीं महिलाओं का कुछ लोग फायदा उठा कर उनको चंद पैसों के लिए हरियाणा और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में बेच देते हैं। उत्तराखंड में अब तक ह्यूमन ट्रैफिकिंग के कई केस सामने आ चुके हैं और कई लोग इस गैरकानूनी धंधे में लिप्त पाए गए हैं।ताजा मामला हल्द्वानी जिले से सामने आया है जहां पर एक विधवा महिला को 40 हजार रुपए में हरियाणा की पार्टी को बेच दिया गया था। आगे पढें

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: कॉलोनी में एक साथ 14 लोग कोरोना पॉजिटिव..सील हुआ इलाका
मामला तब खुला जब महिला ने प्राथमिकी दर्ज कराई। महिला ने बताया कि वह विधवा है और आरोपियों ने उसको शादी का झांसा देकर 40 हजार रुपए में हरियाणा के एक आदमी को बेच दिया। पीड़िता ने अपनी आपबीती बताते हुए कहा कि वह आर्थिक रूप से परेशान है और इसलिए वह उन लोगों के झांसे में आ गई। इस मामले में पुलिस ने ह्यूमन ट्रैफिकिंग के अपराध में शामिल पति और पत्नी को हिरासत में ले लिया है। पीड़िता का कहना है कि आरोपी राकेश जोशी नैनीताल का निवासी है। उसने अपनी पत्नी के साथ मिलकर पीड़िता की शादी के नाम पर उसको हरियाणा की पार्टी को 40 हजार में बेच दिया। उन्होंने महिला को अपने जाल में फंसा दिया और हरियाणा में पार्टी को 40 हजार रुपए में बेच दिया। इस पूरे मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है और हल्द्वानी से राकेश जोशी को और उसकी पत्नी मोहिनी को गिरफ्तार कर लिया है। इन दोनों से सख्ती करने पर सच में यह पता लगा कि यह दोनों पति-पत्नी राजस्थान एवं हरियाणा के रहने वाले पुरुषों के विवाह करने के उद्देश्य से पहाड़ों की गरीब और असहाय और विधवा महिलाओं को लाखों में बेच देते हैं। इससे पहले यूएसनगर में भी ह्यूमन ट्रैफिकिंग का मामला सामने आया था। पुलिस ने हल्द्वानी से राकेश और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है और अब दोनों के ऊपर मुकदमा दर्ज कर दिया गया है। पुलिस दोनों के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्यवाही करेगी।

Latest Uttarakhand News

Disclaimer

हम वेबसाइट पर डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। हमारी Privacy Policy और Terms & Conditions पढ़ें, और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।