उत्तराखंड: जंगल की आग से निकला शोला..सड़क पर चलते ट्रक में लगी आग

उत्तराखंड में जंगल लगातार धधक रहे हैं। आग से करोड़ों की वन संपदा को नुकसान होने के साथ ही लगातार हादसे भी हो रहे हैं।

उत्तराखंड में सूखे के चलते जंगलों में लगातार आग धधक रही है। हेक्टेयर के हेक्टेयर जंगल जल चुके हैं। पौड़ी से लेकर पिथौरागढ़ तक जंगलों में आग लगने की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। वनकर्मी एक जगह आग बुझाते हैं तो दूसरी जगह आग धधकने लगती है। जंगल में लगी आग से करोड़ों की वन संपदा को नुकसान होने के साथ ही लगातार हादसे भी हो रहे हैं। नैनीताल में भी यही हुआ। शनिवार को यहां मुख्यालय के पास एक ट्रक में अचानक आग लग गई। जिससे ट्रक में रखा सामान जलकर राख हो गया। आग लगने की सही वजह का पता नहीं चल सका है, लेकिन माना जा रहा है कि जंगल से गुजरते वक्त जंगल की आग का एक शोला ट्रक में गिर गया था, जिससे ट्रक में रखा सामान जल गया। जानकारी के मुताबिक शनिवार को सामान से भरा ट्रक अल्मोड़ा से हल्द्वानी की तरफ आ रहा था। कैंची धाम से पहले जंगल से गुजरते वक्त आग का एक शोला ट्रक में आ गिरा। देखते ही देखते आग ने सामान को पूरी तरह अपनी चपेट में ले लिया, हालांकि गनीमत ये रही कि ट्रक में सवार लोगों को कोई नुकसान नहीं हुआ। वो सुरक्षित हैं।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: वनाग्नि पर रोक के लिए केंद्र से मिले दो स्पेशल हेलीकाप्टर..जानिए इनकी खूबियाँ
इन दिनों उत्तराखंड के अलग-अलग हिस्सों से जंगल में आग लगने की घटनाएं सामने आ रही हैं। आग बुझाने के दौरान लोग हादसों का शिकार भी हो रहे हैं। शुक्रवार को अल्मोड़ा के भिकियासैंण में आग बुझाते समय एक वृद्धा आग की चपेट में आ गई थी। आग की चपेट में आने से वृद्धा का चेहरा और हाथ झुलस गए। हादसे में वृद्धा करीब 63 फीसदी जल गई। सीएचसी में प्राथमिक उपचार के बाद उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। इसी तरह डीडीहाट वन रेंज के पमस्यारी, लालघाटी, थल डीडीहाट वन क्षेत्र और नारायणनगर वन क्षेत्र में कई दिनों से आग लगी है। चंपावत के पास मानेश्वर में चीड़ के जंगल में आग लगने की सूचना है। जंगलों की आग हवा के साथ निकटवर्ती गांवों तक पहुंच रही है, जिससे लोग दहशत में हैं।

Latest Uttarakhand News

Disclaimer

हम वेबसाइट पर डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। हमारी Privacy Policy और Terms & Conditions पढ़ें, और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।