उत्तराखंड: बेशर्म इंसान ने इंस्टाग्राम पर डाली बच्चों की अश्लील वीडियो..मुकदमा दर्ज

हरिद्वार जिले के रुड़की में एक व्यक्ति द्वारा छोटे बच्चों की अश्लील वीडियो इंस्टाग्राम पर पोस्ट करने के आरोप में सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस द्वारा आरोपी के खिलाफ आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया है।

उत्तराखंड के हरिद्वार जिले के रुड़की में पुलिस ने एक आरोपी के खिलाफ इंस्टाग्राम पर बच्चों की अश्लील वीडियो पोस्ट करने के मामले में आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया है। सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। आपको बता दें कि यह मुकदमा गृह मंत्रालय के निर्देश पर दर्ज हुआ था और अब पुलिस गहराई से पूरे मामले की जांच पड़ताल कर रही है। आरोपी की पहचान कृष्ण यादव के रूप में हुई है जो कि खंजरपुर का निवासी है। बता दें कि आरोपी कृष्ण यादव इंस्टाग्राम पर बच्चों के अश्लील वीडियो पोस्ट करता था और उसके बाद उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया गया है। दरअसल सोशल मीडिया पर बच्चों से संबंधित अश्लील सामग्री डालने वालों पर गृह मंत्रालय की तरफ से एक नेशनल साइबर क्राईम रिर्पोटिंग पोर्टल का संचालन किया जा रहा है और इस पोर्टल के अंतर्गत इंटरनेट मीडिया पर बच्चों का जोड़ी अश्लील सामग्री को चिन्हित किया जाता है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: कल से बिना यात्रियों के शुरू होगी चारधाम यात्रा..2 मिनट में पढ़िए पूरी गाइडलाइन
गृह मंत्रालय के इस पोर्टल पर हाल ही में इंस्टाग्राम पर बच्चों से जुड़ी अश्लील सामग्री डालने वालों को चिन्हित किया था जिसमें रुड़की के इस निवासी का नाम भी सामने आया है जो कि बच्चों के अश्लील वीडियो को अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर पोस्ट किया करता था। उसके बाद गृह मंत्रालय की तरफ से उपमहानिरीक्षक उत्तराखंड को इस मामले में कार्यवाही के निर्देश दिए और उसके बाद सिविल लाइंस कोतवाली रुड़की को इस मामले में सख्त कार्यवाही करने के निर्देश मिले। सिविल लाइंस कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक राजेश शाह का कहना है कि इस मामले में सिविल लाइंस कोतवाली के कॉन्स्टेबल की तहरीर पर पुलिस ने कृष्ण यादव के ऊपर मुकदमा दर्ज कर दिया है। कृष्ण यादव के अकाउंट की छानबीन की जा रही है और मामले की गहराई से जांच-पड़ताल की जा रही है।

Latest Uttarakhand News

Disclaimer

हम वेबसाइट पर डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। हमारी Privacy Policy और Terms & Conditions पढ़ें, और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।