पहाड़ में दहेज के लिए नवविवाहिता की बेरहमी से हत्या..पति और सास गिरफ्तार

चंपावत जिले में नवविवाहिता को दहेज के लिए प्रताड़ित करने और उसकी निर्मम तरीके से हत्या करने के आरोप में पुलिस ने उसके पति और उसकी सास को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। जानिए पूरा मामला-

उत्तराखंड के चंपावत जिले में इंसानियत शर्मसार हुई है। चंपावत में पुलिस ने नवविवाहिता के साथ दहेज के लिए उत्पीड़न करने और हत्या के आरोप में उसके पति एवं सास को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। दोनों आरोपियों ने नवविवाहिता के ऊपर दहेज को लेकर लेकर दबाव बनाया और उसका उत्पीड़न करने के बाद उसकी निर्मम तरीके से हत्या कर दी। चलिए आपको पूरे मामले से अवगत कराते हैं। दरअसल लोहाघाट के ग्राम पाटन के निवासी मनोज कुमार ने 26 अप्रैल 2021 को नजदीकी थाने में तहरीर दी। उन्होंने बताया कि उनकी पुत्री के साथ दहेज को लेकर उसके ससुराल वालों ने उसका उत्पीड़न किया और फिर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी। मृतका के पिता ने तहरीर में बताया कि उसकी बेटी सपना का विवाह बीते 2020 को 9 जून को अनिल कुमार के साथ हुआ था।

यह भी पढ़ें - गढ़वाल में ये हाल है..गड्ढे के अंदर छुपा रखी थी 71 पेटी शराब, पुलिस भी हैरान
मृतका के पिता ने तहरीर में बताया कि कुछ समय तक उसकी बेटी के साथ उसके ससुराल वालों ने ठीक व्यवहार किया मगर कुछ महीनों के बाद ही उसकी बेटी को उसका पति अनिल कुमार और उसकी सास तुलसी देवी दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे और उनकी पुत्री के ऊपर दबाव बनाने लगे। मृतका के पिता ने तहरीर में यह भी बताया कि उसने अपने दामाद अनिल कुमार को स्कूटी खरीदने के लिए 30 हजार की नकद धनराशि दी थी और उसके बाद उसके दामाद ने उनकी बेटी सपना की सोने की अंगूठी और मांग टीका बेच दिया जिसके बाद से प्रताड़ना का यह सिलसिला चलता रहा और सपना के ससुराल वाले उसके ऊपर दहेज का दबाव बनाकर उसके साथ मारपीट करते रहे। सपना के पिता ने पुलिस को बताया कि 25 अप्रैल 2021 को सपना के ससुर ने फोन कर उनको जानकारी दी कि सपना ने सुसाइड कर ली है। आगे पढ़िए

यह भी पढ़ें - देहरादून में ब्लैक फंगस की एंट्री, 3 मरीजों के संक्रमित होने की खबर..जानिए इसके लक्षण
जिसके बाद सपना के पिता ने पुलिस में उसके ससुराल वालों के खिलाफ अपनी बेटी की हत्या का आरोप लगाया और पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ दहेज प्रतिषेध अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया। पुलिस द्वारा इस मामले की गहराई से जांच पड़ताल की गई। सीओ अशोक कुमार परिहार के नेतृत्व में पुलिस की टीम ने मृतका के ससुराल में जाकर घटनास्थल का निरीक्षण किया और कई महत्वपूर्ण साक्ष्य भी जुटाए। घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद मृतका के पति अनिल कुमार और उसकी सास तुलसी देवी के झूठ पर से पर्दाफाश हो गया और उनके खिलाफ सपना को प्रताड़ित करने एवं उसकी ह्त्या करने के पर्याप्त सबूत पाए जाने के बाद पुलिस ने उन दोनों को मंगलवार को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया है। सीओ अशोक कुमार परिहार ने बताया कि दोनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

Latest Uttarakhand News

Disclaimer

हम वेबसाइट पर डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। हमारी Privacy Policy और Terms & Conditions पढ़ें, और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।