उत्तराखंड: लोहाघाट की किरण को दहेज के दानवों ने मार डाला? पति और सास गिरफ्तार

ढाई महीने पहले किरन की शादी जोड़या निवासी युवक से हुई थी। आंखों में शादी के कई सतरंगी सपने लिए किरन ससुराल पहुंची थी, लेकिन छह जून को किरन की मौत के साथ ही उसका हर सपना बिखर गया।

उत्तराखंड का सीमांत जिला चंपावत। यहां लोहाघाट में किरन देवी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जिस घर में किरन की लाश फंदे से लटकी मिली, उस घर में दाखिल हुए किरन को अभी सिर्फ ढाई महीने ही हुए थे। जी हां, ढाई महीने पहले ही किरन की शादी लोहाघाट ब्लॉक की ग्राम सभा पाटन-पाटनी में जोड़या निवासी युवक से हुई थी। आंखों में शादी के कई सतरंगी सपने लिए किरन ससुराल पहुंची थी, लेकिन छह जून को किरन की मौत के साथ ही हर सपना बिखर गया। किरन की लाश बाथरूम में लगे फंदे से लटकी मिली। युवती के परिजनों ने ससुराल वालों पर दहेज के लिए किरन को मारने का आरोप लगाया है। शुरुआती जांच में भी मामला हत्या का पाया गया, जिसके बाद पुलिस ने किरन के पति और सास को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: एक जिले से दूसरे जिले में जा सकेंगी बसें, जारी हुई गाइडलाइन..आप भी पढ़िए
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार जोड़या में रहने वाला आरोपी पति कुलदीप सिंह चम्पावत विकास भवन में नौकरी करता है। इसी साल 10 मार्च को कुलदीप की शादी खेतीखान के डिग्डवाल गांव में रहने वाले राजेंद्र सिंह बोहरा की बेटी किरन से हुई थी। किरन के पिता ने बताया कि 6 जून को रात 12 बजकर 40 मिनट पर दामाद ने उन्हें बताया कि बेटी की तबीयत खराब है, उसे अस्पताल ले जाया गया है। रात में ही डेढ़ बजे बेटी की मौत की खबर भी मिल गई। किरन के पिता ने बताया कि घटना से एक दिन पहले 5 जून को बेटी ने उन्हें फोन किया था। उसने बताया था कि पति और सास उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करते हैं। इसके अगले दिन ही किरन संदिग्ध हालत में मृत पाई गई। परिजनों ने ससुराल वालों पर दहेज हत्या का आरोप लगाया है। शुरुआती जांच भी हत्या की तरफ इशारा कर रही है। मृतक के पिता की तहरीर पर पुलिस ने पति कुलदीप सिंह और सास हीरा देवी के खिलाफ दहेज हत्या की धाराओं में केस दर्ज किया है। फिलहाल पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं मिली है। मामले की जांच की जा रही है।

Latest Uttarakhand News

Disclaimer

हम वेबसाइट पर डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। हमारी Privacy Policy और Terms & Conditions पढ़ें, और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।