उत्तराखंड: 100 पुलिसकर्मियों को सलाम..सुगम की ड्यूटी छोड़ी, दुर्गम में ही रहने का लिया फैसला

जब दूसरे पुलिसकर्मी शहरों में जमे रहने की जुगत भिड़ा रहे थे, तब कुमाऊं के 100 पुलिसकर्मियों ने शहर की बजाय दुर्गम क्षेत्र में सेवा देने का फैसला लिया। पढ़ें पूरी खबर

पहाड़ सबकी परीक्षा लेता है, यही वजह है कि ज्यादातर शिक्षक-पुलिसकर्मी और अन्य कर्मचारी दुर्गम इलाकों में सेवाएं नहीं देना चाहते। हर कोई जुगत भिड़ाकर शहरों में डटे रहना चाहता है। Uttarakhand 100 policemen decided to do duty in remote area ऐसी खबरों के बीच उत्तराखंड के सौ पुलिसकर्मियों ने सेवाभाव की मिसाल पेश की है। कुमाऊं के सुदूरवर्ती इलाकों में पोस्टेड इन पुलिसकर्मियों ने शहरों की सुविधाओं को ठुकराकर दुर्गम में सेवा जारी रखने की बात कही है। 7 जून को डीआईजी डॉ. नीलेश आनंद भरणे ने ...
...Click Here to Read Full Article

Latest Uttarakhand News

Disclaimer

हम वेबसाइट पर डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। हमारी Privacy Policy और Terms & Conditions पढ़ें, और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।