अगर अय्याश पटवारी अपनी ड्यूटी निभाता तो अंकिता बच जाती, उसने भी ईमान बेच दिया!

पटवारी वैभव प्रताप पुलकित आर्य के रिजॉर्ट में आया-जाया करता था, सबकुछ पता होने के बावजूद उसने रिजॉर्ट की गैरकानूनी गतिविधियों पर आंखें मूंद रखी थी।

अंकिता हत्याकांड में एसआईटी की जांच तेजी से आगे बढ़ रही है। ankita bhandari murder case accused vaibhav इस मामले में स्पेशल टास्क फोर्स ने पटवारी वैभव प्रताप को भी गिरफ्तार कर लिया है। अंकिता हत्याकांड में पटवारी वैभव कुमार की भूमिका संदिग्ध है। आज सुबह एसआईटी ने वैभव कुमार को हिरासत में लिया था और उससे पूछताछ की जा रही थी। अब मामले में वैभव प्रताप को गिरफ्तार किया गया है। वैभव प्रताप यमकेश्वर तहसील के उदयपुर पल्ला-2 पट्टी के राजस्व उपनिरीक्षक रहे हैं। आरोप है कि वैभव प्रताप की अ...
...Click Here to Read Full Article

Latest Uttarakhand News

Disclaimer

हम वेबसाइट पर डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। हमारी Privacy Policy और Terms & Conditions पढ़ें, और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।