उत्तराखंड में मूसलाधार बारिश की चेतावनी, 8 जिलों के लोग बेहद सावधान रहें

मौसम विभाग के पूर्वानुमान अनुसार आज पूरे प्रदेश में भारी बरसात हो सकती है। मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

कुछ दिनों से लगातार बारिश के बाद बीते शुक्रवार को उत्तराखंड में चटक धूप खिली जिस वजह से लोगों को बारिश से थोड़ी राहत मिली है मगर मौसम विभाग के पूर्वानुमान अनुसार आज उत्तराखंड में भारी से भारी बारिश होने का अनुमान लगाया गया है। जी हां, अधिकांश जिलों में मौसम साफ बना हुआ है मगर बरसात के कारण पहाड़ों पर बुरा हाल है। राज्य में मानसून के सक्रिय होने के बाद से ही मूसलाधार बरसात का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है और बरसात पहाड़ों पर मुसीबत बनकर बरस रही है। तेज वर्षा के कारण उत्तराखंड के पहाड़ों पर जगह-जगह भूस्खलन हो रहे हैं जिस कारण सड़कें और राष्ट्रीय राजमार्ग बाधित हो रहे हैं। आज मौसम विभाग ने प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बरसात का अनुमान लगाया है जबकि 3 जिलों में मौसम विभाग ने तेज बरसात की संभावना जताई है। यूं तो पूरे प्रदेश में आज ऑरेंज अलर्ट है फिर भी पहाड़ी जिलों जैसे रुद्रप्रयाग, चंपावत, टिहरी, पौड़ी, चमोली, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़, बागेश्वर जैसे जिलों के लोगों को बेहद सावधान रहने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने खत्म किया सस्पेंस, हरदा के हाथ ‘मास्टर प्लान’
उत्तराखंड में बीते कई दिनों से हो रही लगातार बरसात का खामियाजा पहाड़ों पर आवाजाही करने वाले लोगों को भुगतना पड़ रहा है। बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग भारी वर्षा और जबरदस्त मलबा आने के कारण चमधार में एक बार फिर से ब्लॉक हो गया है जिस कारण यहां पर यातायात पूरी तरह से बाधित हो गया है। आज शाम तक मार्ग खुलने की संभावना जताई गई है। ऋषिकेश-बद्रीनाथ राष्ट्रीय मार्ग सिरोबगड़ में बाधित हुआ पड़ा है जिस वजह से वहां पर भी यातायात अवरुद्ध हो रखा है और लोग मार्ग के खुलने का इंतजार कर रहे हैं। वहीं बात करें ऑल वेदर मोटर मार्ग की तो लोहाघाट-पिथौरागढ़ ऑल वेदर मोटर मार्ग पर भरतोली के पास चट्टान दरकने से तबाही मच गई है और कई मकान खतरे की जद में आ गए हैं। भूस्खलन होने के कारण कई सरकारी पंचायत घर, खेत ध्वस्त हो गए हैं इस वजह से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है।

यह भी पढ़ें - खुशखबरी: देहरादून- पिथौरागढ़- दिल्ली के लिए उड़ेंगे विमान, शुरू होने वाली है फ्लाइट
वहीं भूस्खलन और मलबा आने के कारण टनकपुर-पूर्णागिरी मार्ग बीते 6 दिनों से अवरुद्ध पड़ा हुआ है और अभी तक नहीं खोला जा सका है। बता दें कि बीती 18 जुलाई को हनुमान चट्टी के पास बरसात के बाद बोल्डर गिरने से टनकपुर-पूर्णागिरी मार्ग बंद हो गया था। चट्टान का टुकड़ा इतना बड़ा है कि 6 दिन के बाद भी अब तक मार्ग नहीं खोला जा सका है। वहां काम कर रहे लोनिवि के अधिकारियों का कहना है कि अगर मौसम साफ रहा तो शनिवार को मार्ग यातायात के लिए सुचारू कर दिया जाएगा। मौसम विभाग के पूर्वानुमान अनुसार प्रदेश के कुछ स्थानों में आज हल्की से मध्यम बरसात हो सकती है जबकि उत्तरकाशी, चमोली और नैनीताल में तेज बौछारें पड़ने की संभावना हैं। आज उत्तराखंड में अधिकतम तापमान 34 डिग्री और न्यूनतम तापमान 24 डिग्री रहने का अनुमान लगाया गया है।

Latest Uttarakhand News

Disclaimer

हम वेबसाइट पर डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। हमारी Privacy Policy और Terms & Conditions पढ़ें, और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।