उत्तराखंड चुनाव: फेस की रेस में पिछड़ी कांग्रेस..BJP, AAP में चेहरे फाइनल

इस वक्त दूसरी पार्टियां जहां चुनाव को लेकर रणनीति बना रही हैं, तो वहीं कांग्रेस में सीएम चेहरे की होड़ है। कांग्रेसी नेता चुनावी मुद्दों को छोड़ दिल्ली-देहरादून के चक्कर काटने में व्यस्त हैं।

विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही सियासी पारा चढ़ने लगा है। बीजेपी जोर-शोर से चुनाव की तैयारी में जुटी है। आगामी चुनाव में बीजेपी को कौन लीड करेगा, इसका पता चल गया है। बीजेपी ने वर्तमान सीएम पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। वहीं तीसरा सियासी विकल्प बनने की तैयारी में जुटी आम आदमी पार्टी ने भी सीएम फेस को लेकर अपना स्टैंड साफ कर दिया है। आप ने रिटायर्ड कर्नल अजय कोठियाल को सीएम उम्मीदवार बनाया है। बीजेपी और आप ने सीएम फेस को लेकर अपना रुख साफ कर दिया है, लेकिन कांग्रेस अब भी कंफ्यूज है। कांग्रेस पार्टी ने अब तक सीएम फेस को लेकर अपनी स्थिति साफ नहीं की है, ये बात और है कि सियासी हलकों में हरीश रावत को सीएम उम्मीदवार बनाए जाने की चर्चाएं हैं, हालांकि अभी इसकी घोषणा नहीं हुई है। सीएम फेस घोषित करने को लेकर बीजेपी-आप ने बढ़त बना ली है, लेकिन कांग्रेस की तरफ से इसे लेकर हो रही देरी पार्टी के भीतर मचे घमासान की ओर इशारा कर रही है। पार्टी के भीतर हो रही गुटबाजी के चलते कांग्रेस अब तक कोई फैसला नहीं ले पाई है, ये देरी आने वाले चुनाव में पार्टी पर भारी पड़ सकती है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड में त्रिवेंद्र बनाम हरक: जिनके घर कांच के होते हैं, वो दूसरों के घर...
पालाबदल का भी आगाज हो चुका है। बीजेपी दो विपक्षी विधायकों को अपने पाले में ला चुकी है। इस वक्त दूसरी पार्टियां जहां चुनाव को लेकर रणनीति बना रही हैं, तो वहीं कांग्रेस में सीएम चेहरे की होड़ है। कांग्रेसी नेता दिल्ली और देहरादून के चक्कर लगा रहे हैं। हरीश रावत के समर्थक उन्हें मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने की मांग कर रहे हैं। पार्टी ने इस सुझाव को अब तक तवज्जो नहीं दी है, लेकिन ये जरूर तय है कि अगले कुछ महीनों में उत्तराखंड में वही सबसे अहम भूमिका में रहेंगे। रावत के अलावा अभी कांग्रेस के पास कोई ऐसा चेहरा भी नहीं है जो उन्हें चुनौती दे सके। कांग्रेस के विधायक हरीश धामी भी कह चुके हैं कि कांग्रेस हरीश रावत को सीएम फेस घोषित न कर के बड़ी गलती कर रही है। उन्होंने पार्टी से इस मामले में जल्द ही स्थिति साफ करने की भी मांग की।

Latest Uttarakhand News

Disclaimer

हम वेबसाइट पर डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। हमारी Privacy Policy और Terms & Conditions पढ़ें, और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।