उत्तराखंड: यहां बनी देश की पहली आपदा रोधी आलीशान हट..आप भी चले आइए

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ के सीमांत क्षेत्र मुनस्यारी में स्थित ईको पार्क के अंदर 10 आधुनिक आपदा रोधी हटों का निर्माण किया गया है।

अगर आप भी अपनी दौड़ती और भागती जिंदगी से परेशान हो चुके हैं और कुछ समय के लिए एकांत में दिन बिताना चाहते हैं तो पिथौरागढ़ के मुनस्यारी में स्थित ईको पार्क वही जगह है जिसकी आपको तलाश है। प्रकृति की गोद में बसा हुआ यह ईको पार्क छुट्टियां बिताने के लिए शानदार जगह है और अब इस ईको पार्क के अंदर पर्यटकों की सुविधा को देखते हुए 10 आधुनिक हटों का भी निर्माण किया गया है। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ के सीमांत क्षेत्र में स्थित धारचूला और मुनस्यारी में वन विभाग की ओर से एक बेहद सराहनीय और अनोखी पहल की गई है। पहाड़ों पर बढ़ती बेरोजगारी और पलायन को रोकने के लिए वन विभाग ने धारचूला और मुनस्यारी के पातलथौड़ के 30 हेक्टेयर क्षेत्र में ईको पार्क का निर्माण किया है। ईको पार्क के अंदर पर्यटकों के रुकने के लिए 10 आधुनिक हटों का भी निर्माण किया गया है। यह आम हट नहीं हैं। यह हट आपदा रोधी हैं और उत्तराखंड ही पूरे देश में एकमात्र ऐसा राज्य है जहां पर ऐसे आपदा रोधी आधुनिक हट मौजूद हैं। जी हां, ईको पार्क के अंदर पर्यटकों को लुभाने के लिए और पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए आपदा रोधी आधुनिक हटों का निर्माण किया गया है।

यह भी पढ़ें - हे भगवान! गढ़वाल में भी होने लगी अफीम की खेती..41 लोगों के खिलाफ केस दर्ज
मुनस्यारी में आजीविका के लिए संघर्ष कर रहे बेरोजगार युवाओं को आर्थिक सहारा मिलेगा और पलायन को रोकने और रोजगार के अवसर बढ़ाने में भी मदद मिलेगी। मुनस्यारी के ईको पार्क में हट के साथ ही टेंट में रहने की भी सुविधा मौजूद है। इन हटों के माध्यम से बेरोजगार युवाओं को आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है ताकि उनके कौशल का विकास हो। वन विश्राम भवन द्वारा यह पूरी कोशिश की जा रही है कि जो भी यात्री मुनस्यारी में आएं उनको बेहतर से बेहतर सुविधा प्राप्त हो ताकि वहां पर पर्यटन गतिविधियों के बढ़ने से स्वरोजगार के नए संसाधन भी विकसित हों। आपको बता दें कि विश्व की सर्वाधिक ऊंचाई 9000 फुट पर ईको पार्क के अंदर वन विभाग ट्यूलिप गार्डन का सफल प्रदर्शन कर चुका है और अब इसका का विस्तार कर रहा है। बता दें कि आपदा रोधी ईको हटों के अलावा वन विभाग ने पहला पक्षी आधारित ग्रोथ सेंटर भी वहां पर विकसित किया है।

यह भी पढ़ें - उत्तराखंड: लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी के नए गीत ने मचाई धूम..आप भी देखिए वीडियो
इसी ईको पार्क में टैंट के अलावा अब वन विभाग ने आधुनिक हटों का निर्माण भी किया है जिसके अंदर पूरी सुविधा दी जाएगी और इनके माध्यम से बेरोजगार युवाओं को रोजगार भी मिलेगा और पलायन में भी कमी आएगी। कहने को तो यह हट हैं मगर अंदर से देखने पर आपको लगेगा कि आप किसी आलीशान होटल के कमरे में आ गए हैं क्योंकि अंदर का इंटीरियर बहुत ही सुविधाजनक और शानदार है जिसमें पर्यटकों को सभी सुविधा दी जाएगी। पिथौरागढ़ के डीएफओ डॉ विनय ने बताया है कि सीमांत के धारचूला और मुनस्यारी में वन विभाग में आजीविका और पलायन को रोकने के लिए और रोजगार के अवसर विकसित करने के लिए कई कार्य किए गए हैं और ईको पार्क मुनस्यारी में आपदा रोधी 10 आधुनिक हटों का भी निर्माण किया गया है। उत्तराखंड पूरे देश में एकमात्र ऐसा राज्य है जिसने राज्य में ऐसे आपदा रोधी आधुनिक हटों का निर्माण किया गया है।

Latest Uttarakhand News

Disclaimer

हम वेबसाइट पर डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। हमारी Privacy Policy और Terms & Conditions पढ़ें, और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।